आजादी के अमृत महोत्सव पर मंथन | Azadi-ke-amrit-mahotsav-par-manthan

आजादी के अमृत महोत्सव पर मंथन | Azadi-ke-amrit-mahotsav-par-manthan

आजादी के अमृत महोत्सव पर मंथन | Azadi-ke-amrit-mahotsav-par-manthan क्यों आजादी के 75 वर्षों के बाद भी राष्ट्रीय चरित्र नहीं बन पाया है? भारत को अपनी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ मनाते हुए है अतीत का जीया गया वह कालखण्ड भूलाना होगा जो हर क्षण कृतभूलों का पश्चात्ताप देता रहा, अपराध-बोध कराता रहा? क्यों हमारी व्यवस्था भ्रष्टाचार … Read more